बड़ी खबर, तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर क्रैश, सीडीएस बिपिन रावत भी सवार थे, चार की मौत की पुष्टि - Daily Lok Manch PM Modi USA Visit New York Yoga Day
July 16, 2024
Daily Lok Manch
राष्ट्रीय

बड़ी खबर, तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर क्रैश, सीडीएस बिपिन रावत भी सवार थे, चार की मौत की पुष्टि

तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। बताया जा रहा है कि सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी समेत 14 लोग सवार थे। अभी तक तीन लोंगों का रेस्क्यू किया गया है। वहीं दो शव बरामद हुए हैं। वायुसेना ने हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं। बताया जा रहा है कि खराब मौसम की वजह से ये हादसा हुआ है। इस हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और उनकी पत्नी सवार थे। रेस्क्यू किए गए लोगों को को वेलिंग्टन बेस में इलाज के लिए ले जाया गया है। चौथे शख्स की तलाश जारी है। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, सीडीएस बिपिन रावत अपनी पत्नी के साथ वेलिंगटन में एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। वेलिंग्टन में आर्म्ड फोर्सेज का कॉलेज है। यहां सीडीएस रावत को लेक्चर था। वे यहां से लौटकर कुन्नूर आ रहे थे। यहां से उन्हें दिल्ली के लिए रवाना होना था। लेकिन घने जंगल में यह हादसा हो गया है। हालांकि, अभी तक आर्मी ने कोई बयान जारी नहीं किया है। बताया जा रहा है कि इलाका काफी घना है। यहां आसपास चारों ओर पेड़ ही पेड़ हैं। हादसा इतना दर्दनाक था कि चारों तरफ आग की लपटें नजर आ रही हैं। सेना और वायुसेना की टुकड़ियां पुलिस के साथ रेस्क्यू के लिए पहुंच गई हैं। आसपास के इलाके में भी तलाश चलाया जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हादसे में 4 अफसरों की मौत हो गई। अभी इनके नाम सामने नहीं आए हैं। जनरल बिपिन रावत की स्थिति के बारे में अभी कुछ भी आधिकारिक तौर पर नहीं कहा गया है। उनकी पत्नी भी इस हेलिकॉप्टर में सवार थीं। जनरल बिपिन रावत 31 दिसंबर 2016 से 31 दिसंबर 2019 तक सेना प्रमुख के पद पर रहे। उन्होंने 1 जनवरी 2020 को चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का जिम्मा संभाला।

Related posts

सौगात: पीएम मोदी आज सात कैंसर अस्पतालों का करेंगे उद्घाटन और 7 का शिलान्यास

admin

दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए भाजपा ने रेखा गुप्ता को मेयर और कमल बागड़ी को डिप्टी मेयर का बनाया उम्मीदवार, दोनों ने किया नामांकन

admin

Chaitra Navratri Hindu Nav Samvatsar 2080 : सुख-समृद्धि-आराधना का पर्व : चैत्र नवरात्रि कल से, इस बार “शुक्ल योग और ब्रह्मयोग का शुभ संयोग”, मां दुर्गा “नौका” पर सवार होकर आएंगी, बदलेगा विक्रम संवत, नव संवत्सर की होगी शुरुआत, जानें कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

admin

Leave a Comment