धूम्रपान फैशन नहीं जानलेवा है, तंबाकू से दूरी बनाए रखिए और स्वस्थ रहिए - Daily Lok Manch PM Modi USA Visit New York Yoga Day
July 15, 2024
Daily Lok Manch
अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय

धूम्रपान फैशन नहीं जानलेवा है, तंबाकू से दूरी बनाए रखिए और स्वस्थ रहिए

तंबाकू खाना किसी भी व्यक्ति के लिए अच्छा नहीं है। पहले शुरुआत इसको खाने में अच्छा लगता है लेकिन यह आगे चलकर जिंदगी बर्बाद कर देता है। सबसे बड़ी बात है इसकी आदत एक बार पड़ जाए तो आसानी से छूटती नहीं है। ‌यह एक सामाजिक तौर पर भी अच्छा नहीं माना जाता है। बच्चे हो या युवा वर्ग इसे दूसरे व्यक्ति को खाते हुए देख कर ही सीख जाते हैं। इसलिए धूम्रपान करना सेहत के लिए बहुत ही नुकसानदायक है। तंबाकू का नशा आगे चलकर जिंदगी को पूरी तरह खोखली कर देता है। ‌बता दें कि आज का 31 मई है। हर साल इसी तारीख को ‘विश्व तंबाकू निषेध दिवस’ मनाया जाता है। ‌स्वस्थ रहिए मस्त रहिए, तंबाकू से हमेशा दूरी बनाए रखिए ।

वैसे भी जो मौजूदा समय चल रहा है इसमें कितनी भी सावधानी बरत लो लेकिन नई-नई बीमारियां आपको घेर ही लेती हैं। तंबाकू ऐसा नशा है जिसको ‘धीमा जहर’ भी कहा जाता है। जो धीरे-धीरे पूरे शरीर को अपने ‘आगोश’ में ले लेता है। इसके सेवन से व्यक्ति को निकोटीन की आदत पड़ जाती है और इसका असर दिमाग पर भी पड़ता है। तंबाकू खाने से महिलाओं में फेफड़ों का कैंसर, दिल का दौरा, सांस की बीमारी, प्रजनन संबंधी विकार, निमोनिया से जुड़ी समस्याएं ज्यादा होती है। ज्यादातर लोग पूरी तरह अपना मुंह नहीं खोल पाते हैं। मुंह के अंदर दोनों ओर सफेद लाइन कैंसर की तरफ बढ़ने का संकेत हैं। अगर समय रहते इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो ये खतरनाक हो सकता है। इसके साथ दिल और गले में भी तंबाकू चबाना खतरनाक होता है। तंबाकू का निकोटीन ब्लड प्रेशर भी बढ़ाता है। जब आप धूम्रपान करते हैं तो उसका धुंआ पूरे श्वसन तंत्र को प्रभावित करता है। ये आंख, कान और फेफड़ों को प्रभावित करता है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन रिपोर्ट के अनुसार तंबाकू के सेवन से दुनियाभर में हर साल 80 लाख से ज्यादा लोग मरते हैं। इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक और जानलेवा है। बता दें कि हर साल विश्व तंबाकू निषेध दिवस अलग ‘थीम’ के साथ मनाया जाता है। इस साल विश्व तंबाकू निषेध दिवस की थीम ‘पर्यावरण की रक्षा करें’ है। यह थीम पर्यावरण पर तंबाकू के प्रभाव पर केंद्रित है। भारत समेत दुनिया के तमाम देशों में इस दिन धूम्रपान छोड़ने के लिए तमाम करा के आयोजन किए जाते हैं। जिसमें लोगों, खासतौर पर युवाओं को तंबाकूू छोड़ने के लिए जागरूक किया जाता है।

यूपी राज्यसभा के लिए भाजपा ने दो और उम्मीदवारों के नामों का किया एलान, देखें लिस्ट👇👇


https://dailylokmanch.com/bjp-announces-names-of-two-more-candidates-for-up-rajya-sabha-see-list/



विश्व में पहली बार नो टोबैको डे मनाने की ऐसे हुई थी शुरुआत–


बता दें कि साल 1987 में पहली बार विश्व स्वास्थ्य संगठन के सदस्य देशों ने इस दिन को मनाने की शुरुआत की थी। डब्ल्यूएचओ ने एक प्रस्ताव पास कर 7 अप्रैल 1988 के दिन को वर्ल्ड नो स्मोकिंग डे के तौर पर मनाने की घोषणा की। इसी साल एक और प्रस्ताव पास कर हर साल 31 मई को वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाने की घोषणा की गई। उसके बाद से ही हर साल 31 मई को दुनियाभर में वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाया जाता है। इस मौके पर तंबाकू या इसके उत्पादों के उपभोग पर रोक लगाने या इस्तेमाल को कम करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है। इस दिन का मुख्य उद्देश्य लोगों को तंबाकू से होने वाले स्वस्थ्य नुकसान के विषय में सचेत करना है । इसमें सिगरेट, बीड़ी, गुटखा और खैनी जैसे तंबाकू उत्पादों का सेवन करने वाले लोग शामिल हैं। तंबाकू के प्रति युवा वर्ग भी बहुत तेजी के साथ आकर्षित होते जा रहे हैं। ‌धूम्रपान करना अधिकांश युवा इसे आधुनिक फैशन समझते हैं। सबसे बड़ा कारण यह है कि युवा वर्ग इससे होने वाले नुकसान के बारे में पहले नहीं सोचते हैं। जब यह नशा पूरे शरीर को बर्बाद कर देता है जब उन्हें होश आता है। तंबाकू के सेवन से कैंसर-फेफड़ों और मुंह का कैंसर होना, फेफड़ों का खराब होना, दिल की बीमारी, आंखों से कम दिखना आदि बीमारियां होती हैं। यदि आप धूम्रपान छोड़ देते हैं तो आपको तत्काल और दीर्घकालिक स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं। अगर आप तंबाकू के आदी हैं तो आज अच्छे जीवन और स्वस्थ शरीर के लिए ‘संकल्प’ लीजिए इसका सेवन कभी नहीं करेंगे।

Related posts

मजबूत होती एनडीए: राष्ट्रपति चुनाव के सहारे आज भाजपा को मिले पुराने साथी, अब यह राजनीतिक दल द्रौपदी मुर्मू का करेंगे समर्थन

admin

(BCCI big decision womens cricket team players happy) ‘ऐतिहासिक फैसला” : भैया दूज पर बीसीसीआई ने भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को दिया “बड़ा तोहफा”

admin

PM Modi Birthday अलग अंदाज में दिखे पीएम : जन्मदिवस पर पीएम मोदी ने मेट्रो में सफर कर यात्रियों से की बात, उसके बाद प्रधानमंत्री ने मोची, कुम्हार और औजार बनाने वाले लोगों के पास बैठकर की मुलाकात

admin

Leave a Comment